Wednesday, March 29, 2017

Amarjit Kaur State Secretary addresses State Seminar of CPI in SIRSA

Amarjit Kaur State Secretary addresses State Seminar of CPI in SIRSA
SIRSA NEWS 
29 March, 2017
Pictures and Videos: GS Mann, Amar S Jyani
Comrade Amarjeet Kaur, State Secretary CPI spoke to media and later addressed a state level seminar of CPI held in Sirsa.
Watch Video:
The 2 day seminar was held at Tula Ram Dharmshala on 25th and 26th March. Comrade Swarn Singh Virk, Roshan Suchan and several young and senior party leaders also addressed the seminar.
This Video was recorded on 26th March 2017

Hindi:
-भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की राष्ट्रीय सचिव कामरेड अमरजीत कौर का बयान। 
-कॉरपोरेट घरानों को राजनीतिक चन्दे देने की छूट देकर केंद्र सरकार ने खोला भरस्टाचार का फव्वारा। 
-राम मन्दिर निर्माण का मसला बातचीत से नही होगा हल। 
-बातचीत से केवल तैयार किया जा सकता है माहौल। 
- अल्टीमेट सुप्रीम कोर्ट से ही होगा मसला हल। 
-उत्तरप्रदेश में बूचड़खाने बंद किये जाने के आदेश पर दी प्रतिक्रिया। 
-बड़े निर्यातक कंपनियों को हुआ फायदा। 
-छोटे छोटे बूचड़खाने बन्द करवाने से हुई है गरीब मार। 
-नोट बंदी व कैशलेस को लेकर केंद्र सरकार पर बोला हमला। 
- नोट बंदी से ना तो रुका कालाधन , ना ही कम हुआ भरस्टाचार। 
-कैशलेस से आम आदमी को आ रही है परेशानी। 
-किसानों की बर्बादी के लिए केंद्र सरकार की नीतियां जिम्मेदार। 
https://ci6.googleusercontent.com/proxy/RnNZfQn2o2xpggJQqefCOervMbPIci5mujDPJnvl43kv6Rtxjyh5gHN_JKVzeU-aaGz3pePFgxfoAAtZJZNx8mveVTc-11j98EfuAJVcumUenA=s0-d-e1-ft#https://ssl.gstatic.com/ui/v1/icons/mail/images/cleardot.gif
 -भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की राष्ट्रीय सचिव कामरेड अमरजीत कौर ने केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी सरकार का भरस्टचार मिटाने का दावा फ़ेल हो चूका है। उन्होंने कहा कि भाजपा की केंद्र सरकार ने कॉरपोरेट घरानों को राजनीतिक चन्दे देने की छूट देकर भरस्टाचार का फव्वारा खोल खोल दिया है। उन्होंने कहा कि  केंद्र सरकार राजनीतिक पार्टियों द्वारा  नगद चन्दा लेने की सीमा  बीस हजार से घटा कर दो हजार कर भरस्टाचार पर अंकुश लगाने की बात कर वाहवाही बटोर रही है लेकिन राजनीतिक घरानों को चंदे देने की कोई सीमा तय नही करना यह सबसे बड़ा भरस्टाचार है। 
कामरेड अमरजीत कौर आज सिरसा में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के दो दिवसीय हरियाणा प्रांतीय साँगेठिक सम्मलेन में भाग लेने के बाद प्रेस वार्ता को संबोधित कर रही थी। 

उन्होंने कहा कि भाजपा ने मोदी लहर की वजह से नही बल्कि  फिक्का परस्ती की राजनीती शुर कर उत्तरप्रदेश में बहूमत हासिल किया है।  उन्होंने कहा कि आज जिस प्रकार से योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री बनाया है उस से भाजपा की मंशा साफ हो चुकी है। उन्होंने राम मन्दिर निर्माण के बारे में कहा की यह मसला बातचीत से हल नही होगा । 
उन्होंने कहा कि भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी बातचीत के खिलाफ नही है बातचीत से केवल माहौल तैयार किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि अल्टीमेटली सुप्रीम कोर्ट द्वारा ही इसका समाधान निकाला जा सकता है। उत्तरप्रदेश में बूचड़खाने बंद किये जाने के आदेश पर दी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि इस से बड़े निर्यातक कंपनियों को फायदा पहुंचा है और छोटे छोटे बूचड़खाने बन्द करवाने से गरीब लोगों पर मार पड़ी है चाहे वे किसी भी धर्म से जुड़े हो। 

नोट बंदी व कैशलेस को लेकर भी कामरेड अमरजीत कौर ने  केंद्र सरकार पर  हमला बोला और कहा कि नोट बंदी से ना तो कालाधन रुका और ना ही भरस्टाचार पर अंकुश लगा । उन्होंने कहा कि कहा कि नोटबंदी के बाद अब कैशलेस से आम आदमी को  परेशानी उठानी पड़ रही है। उन्होंने कहा कि किसानों की बर्बादी के लिए केंद्र सरकार की नीतियां जिम्मेदार है। उन्होंने बताया कि इस सब मुद्दों को लेकर प्रांतीय सम्मलेन आयोजित कर भाजपा की जनविरोधी नीतियों को उजागर कर रहे है। 

कामरेड अमरजीत कौर , राष्ट्रीय सचिव ,  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी।  

No comments: